ہندی خبریں

भाकपा-माले व इंसाफ मंच ने सांप्रदायिक बयान देने पर मुजफ्फरपुर भाजपा सांसद अजय निषाद का जलाया पुतला.

कोरोना संकट के दौरान भाजपा सांसद सांप्रदायिक नफरत फैलाना बंद करें – माले*

सामाजिक सौहार्द व एकता के बल पर ही कोरोना महासंकट से लड़ाई संभव – इंसाफ मंच*

मुजफ्फरपुर,13मई 2020* (प्रेस विज्ञप्ति) भाकपा-माले व इंसाफ मंच के कार्यकर्ताओं ने संयुक्त रूप से हरिसभा चौक स्थित पार्टी कार्यालय में मुजफ्फरपुर भाजपा सांसद अजय निषाद का पुतला जला कर विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान माले जिला सचिव कृष्णमोहन व इंसाफ मंच के राज्य उपाध्यक्ष आफताब आलम ने कहा कि कोरोना महासंकट के दौरान मुजफ्फरपुर सांसद अजय निषाद सामाजिक एकजुटता व सामाजिक सौहार्द मजबूत करने के बदले सांप्रदायिक नफरत फैलाने वाला बयान दे रहें हैं। भाकपा-माले व इंसाफ मंच सांसद द्वारा सांप्रदायिक नफरत फैलाने वाले बयान की तीखी भर्त्सना करता है। सांसद को इसके लिए मुजफ्फरपुर की जनता से माफी मांगनी चाहिए।उन्होंने यह भी कहा कि यदि सांसद अभी भी अपने बयान पर कायम हैं तो मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को उनपर कोरोना महामारी के दौरान सांप्रदायिक घृणा फैलाने के आरोप में मुकदमा दर्ज कराना चाहिए।

सांसद अजय निषाद का पुतला जला कर प्रतिवाद करने में माले जिला सचिव कृष्णमोहन व इंसाफ मंच के राज्य उपाध्यक्ष सहित मंच के राज्य प्रवक्ता असलम रहमानी, माले कार्यालय सचिव सकल ठाकुर, प्रो अरविंद कुमार डे, राजकिशोर प्रसाद, इंसाफ मंच के अकबर आजम सिद्दीकी, शफीकुर रहमान, मो.रिजवान, महिला संगठन ऐपवा की जिला अध्यक्ष शारदा देवी व उपाध्यक्ष प्रमिला देवी सहित कई कार्यकर्ता शामिल थे।

पुतला दहन के दौरान माले व इंसाफ मंच के कार्यकर्ताओं ने कहा कि मुजफ्फरपुर सांसद को कोरोना महासंकट से लड़ने के दौरान लोगों को भड़काने वाला बयान देने के बदले लोगों तक जरूरी मदद पहुंचाने के अभियान में जुटना चाहिए।मुजफ्फरपुर के गांवों में बड़ी संख्या में प्रवासी मजदूर लौट रहें हैं। लौट रहे मजदूरों के प्रति भी घृणा और नफरत फैलाने की साजिश चल रही है। अफवाह फैलाया जा रहा है। इससे समाज में तनाव पैदा होगा। इस पर रोक लगाने की मांग भी कार्यकर्ताओं ने की है।

*कृष्णमोहन*
मुजफ्फरपुर जिला सचिव
*भाकपा-माले*

Urdutimes@123

ہندوستان اردو ٹائمز پر آپ سب کا خیر مقدم کرتے ہیں

متعلقہ خبریں

جواب دیجئے

Back to top button
Close
Close